Indian Police Ranks and Salary : पुलिस रैंक जानकारी हिंदी में

Indian Police Ranks and Salary : जानिये सभी जानकारी हिंदी में: देश या राज्य में नियमों और कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए पुलिस का बड़ा योगदान होता है। अक्सर हम अपने दैनिक जीवन में कई पुलिसवालों को देखते है, जिसमें विभिन्न पुलिस अधिकारी शामिल होते है। जिनकी वर्दी (Uniform) एक जैसी होती है। लेकिन पुलिस अधिकारियों के पदों के अनुसार उनकी वर्दी पर लगे बैज अलग अलग होते है।

यह भी देखें: Up Police Constable Bharti 2022 । यूपी पुलिस कांस्टेबल पदों पर भर्ती

जब हम किसी पुलिस ऑफिसर को देखते है, तो हमारे मन में यह सवाल उठता है कि इस पुलिस अधिकारी का पद और रैंक क्या है? लेकिन पुलिसकर्मियों की वर्दी एक जैसी होने के कारण हम अक्सर यह नहीं जान पाते कि वह किस विभाग में शामिल है।
हम सभी जानते है कि भारतीय पुलिस में विभिन्न पद और रैंक के पुलिस अधिकारी शामिल है। जिनका बैज देखकर उनके पद और रैंक में अंतर पता लगाया जा सकता है।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको Indian Police Rank and Salary से जुडी सभी जानकारी देने वाले है। जिससे आपको इससे जुड़े सभी सवालों जैसे Police Rank List और Police Salary list आदि के जवाब आपको मिल जायेंगे।

Indian Police Ranks List

भारत के प्रत्येक राज्य में पुलिस फाॅर्स होती है। जिसमें विभिन्न पदों पर पुलिस ऑफिसर्स शामिल होते है। जिन सभी की रैंक अलग-अलग होती है। अगर पुलिस ऑफिसर्स की वर्दी की बात करें तो सभी एक जैसी होती है। इसीलिए हम पुलिस ऑफिसर की वर्दी पर लगे बैज द्वारा उनके पद को जान सकते है। हम आपको इस आर्टिकल में के माध्यम से Indian Police Ranks and Salary और Indian Police Officers Insignia से जुडी सभी जानकारी प्रदान कर रहे है।

Indian Police Ranks and Salary

Director General Of Police (DGP)

डीजीपी किसी भी राज्य की पुलिस का सर्वोच्च अधिकारी होता है, यानी यह भारत में सर्वोच्च पुलिस रैंक (Highest Police Rank In India) है। जिसके पास राज्य की पुलिस में सबसे ज्यादा पावर होती है और वह पूरी राज्य की पुलिस को कंट्रोल करता है। जिस वजह से डीजीपी को राज्य पुलिस प्रमुख (state police chief) भी कहा जाता है। भारत में DGP (पुलिस महानिदेशक) एक थ्री-स्टार (three-star) रैंक का पुलिस अधिकारी होता है। इस तरह से एक डीजीपी highest post in police है।

Additional Director General of Police (ADGP)

एडीजीपी आईपीएस ऑफिसर्स होते है। जिसे विभिन्न राज्यों में क्षेत्र प्रमुख (regional chief) के रूप में नियुक्त जाता है। जो DGP की तरह ही थ्री-स्टार रैंक का पुलिस अधिकारी होता है। परन्तु अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (ADGP) को पुलिस विभाग में पुलिस महानिदेशक (DGP) से जूनियर माना जाता है।

Inspector General of Police (IG)

इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस (IG) आईपीएस का अधिकारी होता है। जो भारत में किसी भी राज्य के पुलिस विभाग में तीसरा सर्वोच्च रैंक रखता है। एक आईजी का पद अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (ADGP) से नीचे और पुलिस उपमहानिरीक्षक (DIG) से ठीक नीचे होता है।

Deputy Inspector General of Police (DIG)

डीआईजी को उप महानिरीक्षक कहा जाता है। यह एक पॉवरफुल पुलिस विभाग है। जो भारतीय पुलिस सेवा (Indian Police Service) में एक स्टार रैंक (One Star Rank) होती है। इस रैंक के लिए केवल उन भारतीय पुलिस सेवा (IPS) या राज्य पुलिस सेवा ऑफिसर्स को पदोन्नत किया जाता है। जिन अधिकारियों ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) या पुलिस उपायुक्त (DCP) के पद रूप में सफलतापपूर्वक सेवा की है।

डीआईजी (Deputy Inspector General of Police) के पद के लिए कोई भी जॉब पोस्ट नहीं होता है क्यूंकि इस पद पर एक्सपीरियंस आईपीएस ऑफिसर्स को ही शामिल किया जाता है। जिसने अपनी सेवा के दौरान कोई भी ऐसा कार्य न किया हो जो कि कानून के खिलाफ हो।

किसी भी राज्य में एक से ज्यादा DIG अधिकारी हो सकते है। जो राज्य की जनसँख्या, क्षेत्रफल और आवश्यकता पर निर्भर करता है।

Senior Superintendent of Police (SSP)

एसएसपी को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (Senior Superintendent of Police) कहा जाता है। जो कि आईपीएस रैंक का पुलिस अधिकारी होता है। जिसे राज्य के महानगरीय जिलों या अत्यथिक आबादी वाले जिलों में कानून व्यवस्था बनाये रखने और राज्य में होने वाले अपराध को रोकने की जिम्मेदारी सौंपी जाती है। एक एसएसपी (SSP) ऑफिसर की वर्दी पर दो स्टार लगे होते है।

डीआईजी की तरह ही SSP पद के लिए भी कोई डायरेक्ट भर्ती का आयोजन नहीं होता है। बल्कि एसपी (SP) के पद पर कार्य करने वाले पुलिस अधिकारी को एसएसपी (SSP) के पद पर प्रमोशन दिया जाता है।

Superintendent of Police (SP)

एसपी को पुलिस अधीक्षक (Superintendent of Police) कहा जाता है। जिसे भारतीय सरकार द्वारा देश के भारत में गैर-महानगरीय जिलों (non-metropolitan districts) के जिला प्रमुख के रूप में नियुक्त किया जाता है।

पुलिस अधीक्षक (SP) एक छोटे जिले के साथ-साथ घनी आबादी वाले एक बड़े शहरी या ग्रामीण क्षेत्र का भी प्रमुख होता है। जबकि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) बड़े या महानगरीय शहरों का प्रमुख होता है। अर्थात जिस जिले में एसएसपी को प्रमुख नियुक्त किया जाता है उसी जिले में एसपी ऑफिसर्स को एक बड़े शहरी या ग्रामीण क्षेत्र (large rural or urban area) का प्रमुख नियुक्त किया जाता है।

Additional Superintendent of Police (Add. SP)

एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ पुलिस (Add. SP) को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कहा जाता है। जो कि आईपीएस रैंक के पुलिस अधिकारी होते है।

एक एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ पुलिस (ASP) या फिर एडिशनल डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस (DCP) का पद DSP से ऊपर होता है। अगर पुलिस अधिकारी राज्य पुलिस सेवा से है तो उसे डीएसपी (DSP) का पद दिया जाता है, लेकिन यदि वह भारतीय पुलिस सेवा (IPS) से है तो उसे एएसपी का पद दिया जाता है।

Assistant Superintendent of Police (ASP)

एएसपी को सहायक पुलिस अधीक्षक कहा जाता है। एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ पुलिस यानी एएसपी रैंक (ASP Police Rank) के पुलिस अधिकारी भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) से आते है। एएसपी के पद के द्वारा ही प्रत्येक आईपीएस अधिकारी अपने करियर की शुरुआत करता है। कोई राज्य कैडर का अधिकारी इस पद को धारण नहीं कर सकता है। पुलिस विभाग में पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) एक ऐसा पद है जो एएसपी की रैंक के सामान होता है।

Deputy Superintendent of Police (DSP)

डिप्टी सुपरिंटेंडेंट ऑफ पुलिस एक हाई रैंकिंग पुलिस अधिकारी होते है। एक डीएसपी पास एसीपी के समान अधिकार होते है। उत्तर प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों में डीएसपी को सर्किल ऑफिसर (C.O.) के रूप में तैनात किया जाता है।

डीएसपी अधिकारी राज्य पुलिस का प्रतिनिधि होता है जो कि राज्य के पुलिस अधिकारीयों को निर्देश देता है। डिप्टी सुपरिंटेंडेंट ऑफ पुलिस को औचक निरिक्षण (Surprise inspection) का अधिकार होता है। जिसके अंतर्गत वह कभी भी और कहीं पर भी निरिक्षण कर सकते है।

Police Inspector (PI)

पुलिस निरीक्षक (PI) एक पुलिस स्टेशन का प्रभारी (In Charge) अधिकारी होता है। भारत के प्रत्येक पुलिस स्टेशन में एक कांस्टेबल, एक हेड कांस्टेबल, एक सब-इंस्पेक्टर और एक इंस्पेक्टर होता है। एक पुलिस इंस्पेक्टर पूरे थाने का सर्वोच्च कमांड अधिकारी होता है।

पुलिस इंस्पेक्टर के पास पुलिस स्टेशन में आने वाले पूरे क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाये रखने की जिम्मेदारी होती है। पुलिस निरीक्षक (PI) का पद सब इंस्पेक्टर के पद से ऊपर और डीएसपी के नीचे होता है।

Sub-Inspector (SI)

सब इंस्पेक्टर (SI) को उप-निरीक्षक कहा जाता है। जिसका कार्य कुछ पुलिसकर्मियों जैसे हेड कांस्टेबल आदि को कमांड देना होता है। एक सब इंस्पेक्टर पूरे पुलिस स्टेशन का इन चार्ज होता है। यह पुलिस फाॅर्स में सबसे काम रैंक वाले अधिकारियों में से एक होता है। जो नियमों और विनियमों (rules and regulations) के तहत कोर्ट में चार्ज शीट दायर कर सकते है। सब इंस्पेक्टर पहला जांच अधिकारी (Investigation Officer) होता है।

एसआई का पद असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर (ASI) के पद से ऊपर और पुलिस इंस्पेक्टर के पद से नीचे होता है।

Assistant Sub-Inspector (ASI)

पुलिस फाॅर्स में असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर एक non-gazetted अधिकारी होता है। जिसकी रैंक हेड कांस्टेबल से ऊपर और एक सब-इंस्पेक्टर से नीचे होती है। एएसआई को हवलदार मेजर भी कहा जाता है। असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर एक जांच अधिकारी (Investigation Officer) भी हो सकता है लेकिन ज्यादातर पुलिस इंस्पेक्टर या डीएसपी को इन्वेस्टीगेशन ऑफिसर बनाया जाता है।

Constable

पुलिस कॉन्स्टेबल में शामिल दो पद निम्नलिखित है।

  1. Head Constable
  2. Senior Constable

Head Constable (Havildar)

हेड कांस्टेबल का पद अन्य सभी पुलिस के पदों की तरह ही काफी जिम्मेदारी वाला पद होता है जिसे ज्यादातर लोग हवलदार के नाम से जानते हैं। इनका मुख्य कार्य सब इंस्पेक्टर की सहायता करना होता है। एक हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात पुलिसकर्मी दफ्तर में रिपोर्ट्स को लिखने और उनके रिकार्ड्स को सँभालने का कार्य करता है।

Senior Constable (Lance Naik)

सीनियर कांस्टेबल का पद पुलिस कॉन्स्टेबल के पद से ऊपर होता है। एक सीनियर कांस्टेबल की वर्दी में बैज की जगह पर काले रैंक की पट्टी लगी होती है। जिसके ऊपर पीले रैंक की पट्टी भी होती है हालाँकि कुछ राक्यों में बैज की जगह पर लाल रंग की पट्टी भी होती है।

Police Constable (PC)

भारत के सभी पुलिस विभागों में से पुलिस कांस्टेबल सबसे निचली रैंक होती है। जिसका मुख्य कार्य एफआईआर दर्ज करना होता है। और यह किसी भी मामले में सीनियर पुलिस अधिकारी की मदद करने का कार्य भी करता है। अगर पुलिस स्टेशन में कोई सीनियर अधिकारी मौजूद नहीं है तो एक पुलिस कांस्टेबल को आवश्यक कार्यवाही करने अनुमति होती है।

पुलिस कांस्टेबल के कंधे पर एक पट्टी लगी होती है। जिस पर कोई बैज नहीं लगा होता है। अगर आप किसी ऐसे पुलिस कर्मचारी को देखते है जिसकी कंधे पर या आस्तीन पर कोई निशान नहीं है। तो आप पहचान सकते है कि वह एक पुलिस कांस्टेबल है।

Indian Police Officers Salary Chart (Rank Wise)

भारत के पुलिस विभाग में विभिन्न पद शामिल है, जिसमें कार्य करने वाले सभी पुलिस ऑफिसर्स को उनके पद के अनुसार सैलरी प्रदान की जाती है। यहाँ दी गयी तालिका में हम आपको Police post list with salary प्रदान कर रहे है जिसके द्वारा आप आसानी से सभी पुलिस के पदों की सैलरी की जांच कर सकते है।

Rank in Indian Police Force Analogous Post in Commissionerate 6th Pay Comm. Pay Scale 7th Pay Comm. Entry Level
Director-General of Police Commissioner of Police 80,000 INR (consolidated) no grade payment Rs. 2,25,000
Add. Director-General of Police Special Commissioner of Police 37,400-67,000 INR, grade pay of 12,000 INR Rs. 2,05,400
Inspector-General of Police  Joint Commissioner of Police 37,400 – 67,000 INR, grade pay of Rs 10,000 Rs 1,44,200
Dyp. Inspector-General of Police Add. Commissioner of Police 37,400 – 67,000 INR, grade pay of Rs 8,900 Rs. 1,31,000
Senior Superintendent of Police Deputy Commissioner of Police 15,600-39,100 INR, grade pay of Rs 8,700. Rs. 1,18,500
Superintendent of Police Deputy Commissioner of Police 15,600-39,100 INR, grade pay of Rs 7,600. Rs. 78,800
Add. Superintendent of Police Add. Deputy Commissioner of Police 15,600-39,100 INR, grade pay of Rs 6,600. Rs. 67,700
Assistant Superintendent of Police Assistant Commissioner of Police 15,600-39,100 INR, grade pay of Rs 5,400. Rs. 56,100
Deputy Superintendent of Police Assistant Commissioner of Police 15,600-39,100 INR, grade pay of Rs 5,400. Rs. 56,100
Inspector Inspector 9,300-34,800 INR, grade pay of Rs 4,600. Rs. 44,900
Sub-Inspector  Sub-Inspector 9,300-34,800 INR, grade pay of Rs 4,200. Rs. 35,400
Assistant Sub-Inspector Assistant Sub-Inspector 5,200-20,200 INR, grade pay of Rs 2,800 Rs. 29,200
Head Constable Head Constable  5,200-20,200 INR, grade pay of Rs 2,400 Rs. 25,500
Constable Constable  5,200-20,200 INR, grade pay of Rs 2,000 Rs. 21,700

ऊपर दिए गए आर्टिकल में हमने आपको Indian Police Ranks and Salary से जुडी सभी प्रकार की जानकारी प्रदान की है। हम उम्मीद करते है इस जानकारी के बाद आपको अपने सभी सवालों के जवाब मिल गए होंगे। अगर आपका इससे जुड़ा अन्य कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.