What is TGT, PGT, PRT Full Form and Difference

What is TGT, PGT, PRT Full Form and Difference: आज के समय में बहुत लोग टीचिंग लाइन में अपना करियर बनाना चाहते है क्यूंकि टीचिंग सबसे लोकप्रिय करियर विकल्पों में से एक है। हालाँकि स्कूल में टीचर बनने के लिए आपके पास उसकी सही योग्यता होनी आवश्यक है। कई लोगों को यह जानकारी नहीं होती है कि टीचर लाइन में अपना करियर बनाने के लिए उन्हें क्या करना होगा। इसीलिए वह अपना टीचर बनने का सपना पूरा नहीं कर पाते है। अगर आपके जीवन का लक्ष्य भी टीचर बनना है तो यह आर्टिकल में खास आपके लिए है। जिसमें हमने आपको TGT, PGT और PRT के बारे में जानकारी प्रदान की है। जो आपको टीचिंग में अपना करियर बनाने में मदद करेगी।

कुछ लोगों को इसमें भी कन्फ्यूजन रहती है कि टीजीटी, पीजीटी और पीआरटी में क्या अंतर होता है। इसीलिए हमने इस आर्टिकल में इससे जुडी जानकारी भी प्रदान की है।

What is TGT, PGT, PRT Full Form and Difference

टीजीटी, पीजीटी और पीआरटी परीक्षाएं विभिन्न राज्यों में योग्य उम्मीदवारों की टीचर भर्ती के लिए आयोजित की जाती हैं। जो उम्मीदवार टीचिंग में अपना करियर बनाना चाहते है उन्हें टीचर की भर्ती के लिए की जाने वाली परीक्षाओं के बारे में जानकारी होना आवश्यक है। आज के इस आर्टिकल में हमने आपके साथ टीजीटी, पीजीटी और पीआरटी से जुडी सभी डिटेल्स शेयर की है। जिसमें TGT Full Form, PGT Full Form और PRT Full Form के साथ-साथ TGT kya hai, PGT kya hai और PRT kya hai के बारे में बताया है।

TGT Full Form – टीजीटी फुल फॉर्म

टीजीटी (TGT) की फुल फॉर्म ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (Trained Graduate Teacher) है। टीजीटी की हिंदी फुल फॉर्म प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक है। यह कोई कोर्स नहीं बल्कि एक title है। जिसके नाम से पता चलता है कि आपकी ग्रेजुएशन पूरी हो चुकी है और आप एक टीचर की ट्रेनिंग पूरी कर चुके है।

TGT Full Form in English Trained Graduate Teacher
TGT Full Form in Hindi प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक

TGT क्या है? – What is TGT

टीजीटी एक टाइटल या उपाधि होती है। जिसे उस व्यक्ति को दिया जाता है जिसने टीचर की ट्रेनिंग पूरी कर ली होती है और इसी के साथ उसने ग्रेजुएशन और बीएड की डिग्री भी पूरी कर ली होती है। जो विद्यार्थी शिक्षक बनना चाहते है उन सभी के लिए सरकार बहुत सी परीक्षाओं का आयोजन करती है।

अगर आप टीजीटी परीक्षा देना चाहते है तो इसके लिए आपका किसी एक विषय से ग्रेजुएशन और बीएड की डिग्री पूरी करने के साथ UPTET / CTET / NET क्लियर होना जरुरी होता है। जिसके बाद आप टीजीटी परीक्षा दे सकते है। अगर उम्मीदवार परीक्षा में उत्तीर्ण होता है तो उसके बाद उम्मीदवार का इंटरव्यू लिया जाता है। उम्मीदवार अगर इंटरव्यू को भी क्लियर कर लेता है तो फिर वह अपनी इच्छा से किसी भी विद्यालय में पढ़ा सकता है। एक टीजीटी (TGT) टीचर कक्षा 8 से 10 तक के बच्चों को पढ़ा सकते है।

PGT Full Form – पीजीटी फुल फॉर्म

पीजीटी के बारे में जानने से पहले आपको इसकी फुल फॉर्म को जानकारी होना भी महत्वपूर्ण है। PGT की फुल फॉर्म पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (Post Graduate Teacher) होती है। हिंदी में इसकी फुल फॉर्म स्नातकोत्तर शिक्षक होती है।

PGT Full Form in English Post Graduate Teacher
PGT Full Form in Hindi स्नातकोत्तर शिक्षक

PGT क्या है? – What is PGT

कुछ लोगों को लगता है कि पीजीटी कोई कोर्स है पर ऐसा बिल्कुल नहीं है। टीजीटी एक उपाधि होती है जो किसी particular subject में बीएड और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करने वाले व्यक्ति को दी जाती है। पीजीटी परीक्षा देने वाले उम्मीदवार की आयु कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिए।

पीजीटी की परीक्षा देने के लिए उम्मीदवार के पास पोस्ट ग्रेजुएशन के साथ बीएड की डिग्री होनी जरुरी होती है। पीजीटी की परीक्षा क्लियर करने के बाद उम्मीदवार का इंटरव्यू लिया जाता है जिसे क्लियर करने के बाद उम्मीदवार कक्षा 11 और 12 के बच्चों को पढ़ा सकते है।

PRT Full Form – पीआरटी फुल फॉर्म

यह जानने से पहले की पीआरटी क्या है उससे पहले हम जानते है कि पीआरटी की फुल फॉर्म क्या है ? PRT की फुल फॉर्म Primary Teacher है। अगर बात की जाए पीआरटी हिंदी फुल की तो हिंदी में इसे प्रारम्भिक शिक्षक कहा जाता है।

PRT Full Form in English Primary Teacher
PRT Full Form in Hindi प्रारम्भिक शिक्षक

PRT क्या है? – What is PRT

पीआरटी (PRT) वह शिक्षक होते है जो कक्षा 1 से 5 तक के बच्चों को पढ़ते है। PRT को Primary Teacher कहा जाता है। अगर आप पीआरटी परीक्षा में शामिल होना चाहते है तो आपको 50% अंकों के साथ 12वीं पास होना चाहिए और आपको किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कम से कम 50% कुल अंकों के साथ diploma in Elementry Education / DIET / B.El.Ed / diploma in education(special education) उत्तीर्ण होना चाहिए। इसी के साथ आपको CTET की परीक्षा को भी पास करना जरुरी है। जिसके बाद आप पीआरटी परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते है।

What is the Difference Between TGT, PGT and PRT

कुछ उम्मीदवारों को कन्फ्यूजन होती है कि पीजीटी, टीजीटी और पीआरटी में क्या अंतर है ? इसीलिए यहाँ आपको इसकी विस्तृत जानकारी प्रदान की गयी है।

Particulars TGT PGT PRT
For Class 1 से 5 6 से 10 11 से 12
Age Limit टीजीटी परीक्षा के लिए आवेदन करने के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 और अधिकतम आयु सीमा 35 वर्ष है। पीजीटी परीक्षा में आवेदन करने की अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष है। पीआरटी में अप्लाई करने के लिए अधिकतम आयु 30 वर्ष है।
Educational Qualification टीजीटी शिक्षकों के पास शिक्षा के संबंधित क्षेत्र में ग्रेजुएशन की डिग्री और आगे 2 साल की बी.एड डिग्री होना आवश्यक है। पीजीटी शिक्षक के पास Education Qualification में पोस्ट ग्रेजुएट और बी.एड की डिग्री होना आवश्यक है। पीआरटी शिक्षकों के लिए न्यूनतम educational qualification डिप्लोमा (Elementary Education) है।
Selection Process टीजीटी उम्मीदवार का चयन पिछली परीक्षा और इंटरव्यू में प्राप्त अंकों के आधार पर होता है। पीजीटी शिक्षकों का सिलेक्शन क्वालिफाइंग परीक्षा और इंटरव्यू में प्राप्त कुल अंकों के आधार पर किया जाता है। पीआरटी उम्मीदवार का चयन PRT परीक्षा में प्राप्त अंकों और इंटरव्यू में प्राप्त अंकों के आधार पर होता है।
Minimum Qualifying Marks उम्मीदवारों के अपनी यूजी डिग्री में न्यूनतम 55% अंक होना आवश्यक है। उम्मीदवारों के पास पोस्ट ग्रेजुएशन में न्यूनतम 55% अंक होना आवश्यक है। उम्मीदवार के 12वीं कक्षा में 50% होना जरुरी है।
Salary एक TGT टीचर की बेसिक पे स्केल सैलरी 34000 रु तक होती है। पीजीटी के लिए मूल वेतनमान (basic pay scale) लगभग 35000 से 40000 रू होता है। एक पीआरटी शिक्षक के लिए बेसिक सैलेरी 20,000 रुपये है।

Final Words

ऊपर दिए गए लेख में हमने आपके साथ TGT, PGT और PRT की जानकारी शेयर की है। आपको यह जानकारी कैसी लगी यह आप कमेंट करके हमें बता सकते है। इसके आलावा दिए गए लेख से जुड़ा अगर आपका कोई अन्य सवाल या सुझाव हो तो भी आप हमें कमेंट करके बता सकते है। हम आपके कमेंट का जल्द से जल्द रिप्लाई करने की कोशिश करेंगे।

Updated: October 18, 2022 — 3:51 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *